Entertainment Rummy ⚽ How To Play Rummy 500 With 6 Players

(Rummy) - Entertainment Rummy Live edge of your seat thrills, Rummy Circle Pc Download choose your fortune at the online casino. Shardul Thakur : यह दाएं हाथ का मध्यम तेज गेंदबाज, जो बल्ले से अच्छा है, यहां दो टेस्ट खेले हैं और इतने ही रन चेतेश्वर पुजारा ने बनाए हैं और इस मैदान पर तीन विकेट भी लिए हैं।

Entertainment Rummy

Entertainment Rummy
Live edge of your seat thrills

Matheran news : महाराष्ट्र के लोकप्रिय माथेरान हिल स्टेशन से नेरल जा रही एक टॉय ट्रेन मंगलवार को पटरी से उतर गई। सभी यात्री सुरक्षित हैं। यह हादसा, ओडिशा में उस भयावह ट्रेन दुर्घटना के एक दिन बाद हुआ, जिसमें 278 लोगों की मौत हुई है और अन्य 1100 लोग घायल हुए हैं। उन्होंने बताया कि घटना शनिवार शाम करीब साढ़े 5 बजे हुई जब ट्रेन के इंजन का एक पहिया जुम्मा पट्टी स्टेशन के पास पटरी से उतर गया। जुम्मा पट्टी स्टेशन मुंबई से करीब 95 किलोमीटर दूर है। ट्रेन शनिवार को करीब चार बजे माथेरान से रवाना हुई थी। उसमें करीब 95 यात्री सवार थे। रेलवे के एक प्रवक्ता ने बताया कि हादसे में कोई घायल नहीं हुआ है। यात्रियों को तुरंत ट्रेन से उतार दिया गया और वह अन्य वाहनों से अपने-अपने गंतव्य की ओर रवाना हो गए। रेलवे कर्मचारियों के अनुसार, ट्रेन को रात करीब 9 बजे फिर से पटरी पर लाया गया और रात करीब साढ़े 10 बजे वह नेरल स्टेशन पर वापस लौटी। नेरल-माथेरान टॉय ट्रेन 100 साल से अधिक पुरानी है। इसका मार्ग 21 किमी लंबा है। नेरल तथा माथेरान के बीच जून से अक्टूबर तक बारिश के मौसम के कारण सुरक्षा की दृष्टि से इसका परिचालन रोक दिया जाता है। Entertainment Rummy, उन्होंने कहा, हम मोईन और बाकी की टीम को एशेज़ अभियान के लिये शुभकामनाएं देते हैं। मोइन ने 64 टेस्ट खेलकर 195 विकेट लिये हैं और 2914 रन बनाये हैं। इंग्लैंड 12 जून को बर्मिंघम पहुंचेगी और 13 जून से एजबेस्टन में अभ्यास शुरू करेगा। एशेज़ का पहला टेस्ट 16 जून से शुरू होगा।(एजेंसी)

Weather Updates: दक्षिण-पूर्व अरब सागर (southeast Arabian Sea) के ऊपर निम्न दबाव का क्षेत्र बनने और अगले 2 दिनों में इसमें तेजी आने के चलते चक्रवाती हवाएं (cyclonic winds) मानसून के केरल तट की ओर आगमन को गंभीर रूप से प्रभावित कर सकती हैं। चक्रवाती हवाओं ने मानसून का रास्ता रोक दिया है। इस बीच झारखंड, बिहार समेत 6 राज्यों में लू का अलर्ट जारी किया गया है। हालांकि मौसम विभाग ने केरल में मानसून के आगमन की संभावित तारीख नहीं बताई। आईएमडी ने कहा कि दक्षिण अरब सागर के ऊपर पश्चिमी हवाएं औसत समुद्र तल से 2.1 किमी ऊपर तक चल रही हैं। हालांकि दक्षिण-पूर्व अरब सागर के ऊपर एक चक्रवाती प्रवाह के कारण बादल छाने की परिस्थिति बनी है और वह उसी क्षेत्र में केंद्रित है तथा पिछले 24 घंटों में केरल तट के पास बादलों में कुछ कमी आई है। आईएमडी ने कहा कि इसके अलावा इस चक्रवाती प्रवाह के असर से अगले 24 घंटे के दौरान उसी क्षेत्र में निम्न दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है। इसके उत्तर की ओर बढ़ने और बाद के 48 घंटों के दौरान दक्षिण-पूर्व और इससे सटे पूर्व मध्य अरब सागर के ऊपर दबाव के रूप में मजबूत होने की संभावना है। आईएमडी ने कहा कि इस प्रणाली के बनने और इसके मजबूत होने तथा उत्तर की ओर बढ़ने से केरल तट की ओर दक्षिण-पश्चिम मानसून के बढ़ने पर असर पड़ने की संभावना है। दक्षिण-पश्चिम मानसून आमतौर पर 1जून को लगभग 7 दिनों के मानक विचलन के साथ केरल में प्रवेश करता है। मई के मध्य में आईएमडी ने कहा था कि मानसून 4 जून तक केरल में आ सकता है। दक्षिण-पूर्वी मानसून पिछले साल 29 मई 2021 में 3 जून, 2020 में 1 जून, 2019 में 8 जून और 2018 में 29 मई को पहुंचा था। आईएमडी ने पूर्व में कहा था कि अल नीनो की स्थिति विकसित होने के बावजूद दक्षिण-पश्चिम मानसून के मौसम में भारत में सामान्य बारिश होने की उम्मीद है। उत्तर-पश्चिम भारत में सामान्य से कम बारिश होने की उम्मीद है। पूर्व और उत्तर-पूर्व, मध्य और दक्षिण प्रायद्वीप में लंबी अवधि के औसत (एलपीए) 87 सेंटीमीटर के हिसाब से 94-106 प्रतिशत वर्षा होने की उम्मीद है। भारत के कृषि परिदृश्य के लिए सामान्य वर्षा महत्वपूर्ण है। खेती वाले क्षेत्र का 52 प्रतिशत हिस्सा मानसून की वर्षा पर निर्भर है। यह देशभर में बिजली उत्पादन के अलावा पीने के पानी के लिए महत्वपूर्ण जलाशयों के भंडारण के लिए भी महत्वपूर्ण है। झारखंड में 8 जून तक लू चलने के आसार:रांची से प्राप्त समाचार के अनुसार झारखंड में तापमान 39 से 45 डिग्री सेल्सियस के बीच बना हुआ है और कई जिलों में लू चल रही है। मौसम कार्यालय के अधिकारियों ने सोमवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि मौसम विभाग ने सोमवार से राज्य के उत्तर-पूर्व तथा दक्षिण-पूर्व इलाकों के लिए लू की चेतावनी जारी की। अगले 4 दिनों तक राज्य में मौसम शुष्क रहेगा। रांची मौसम विज्ञान केंद्र के प्रभारी अभिषेक आनंद ने बताया कि सोमवार से झारखंड के कुछ हिस्सों में लू चल सकती है और यह स्थिति 8 जून तक रह सकती है। अगले 4 दिन तक मौसम में बदलाव की कोई संभावना नहीं है। मौसम शुष्क रह सकता है। जब किसी जिले का तापमान सामान्य तापमान से कम से कम 5 डिग्री सेल्सियस अधिक होता है, तब लू की स्थिति घोषित की जाती है। उन्होंने कहा कि 9 जून के बाद मौसम में बदलाव की संभावना है जिससे लू से कुछ राहत मिलने की उम्मीद है। एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र उत्तर-पश्चिमी राजस्थान और आसपास के क्षेत्रों पर बना हुआ है। एक और चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र दक्षिण-पश्चिम राजस्थान पर बना हुआ है। दक्षिण छत्तीसगढ़ और आसपास के क्षेत्रों में एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है और इस चक्रवाती परिसंचरण से एक ट्रफ तेलंगाना, रायलसीमा और दक्षिण आंतरिक कर्नाटक से आंतरिक तमिलनाडु तक फैली हुई है। एक और ट्रफ उत्तर पूर्वी बिहार से झारखंड होते हुए छत्तीसगढ़ तक जा रही है। दक्षिण पूर्व अरब सागर के ऊपर एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र विकसित हुआ है। इसके प्रभाव में आज 6 जून तक एक कम दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है। आज के मौसम की संभावित गतिविधि : स्काईमेट के अनुसार आज मंगलवार को तमिलनाडु, केरल, लक्षद्वीप और दक्षिण आंतरिक कर्नाटक में हल्की से मध्यम बारिश संभव है। अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में हल्की से मध्यम बारिश के साथ एक या 2 तेज बारिश संभव है। शेष कर्नाटक, सिक्किम, असम, मेघालय और पश्चिमी हिमालय के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश संभव है। राजस्थान के कुछ हिस्सों, पंजाब के कुछ हिस्सों, हरियाणा और दिल्ली-एनसीआर के कुछ हिस्सों में धूलभरी आंधी और बारिश संभव है। बिहार, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, झारखंड, तटीय आंध्रप्रदेश और तेलंगाना के कुछ हिस्सों में लू चलने की संभावना है। Edited by: Ravindra Gupta Rummy Curse The Odds - Win Big! choose your fortune at the online casino इस वर्ष जून के महीने में बुधवार, 7 जून को आषाढ़ मास की संकष्‍टी गणेश चतुर्थी पड़ रही है। मान्यतानुसार इसे कृष्णपिङ्गल या कृष्णपिंगाक्ष संकष्टी चतुर्थी (Krishnapingal Sankashti Chaturthi 2023) के नाम से जाना जाता है। पुराणों के अनुसार पूर्णिमा के बाद आने वाली चतुर्थी को संकष्टी तथा अमावस्या के बाद की चतुर्थी को विनायकी के नाम से जाना जाता है। श्री गणेश विघ्नहर्ता है, अत: चतुर्थी के दिन भगवान उनका पूजन और व्रत किया जाता है। आइए जानते हैं आषाढ़ संकष्‍टी गणेश चतुर्थी के शुभ मुहूर्त और कथा- आषाढ़ संकष्‍टी चतुर्थी 2023 के शुभ मुहूर्त : कृष्णपिङ्गल संकष्टी चतुर्थी : बुधवार, 07 जून 2023 को चतुर्थी तिथि का प्रारंभ- 06 जून, मंगलवार को 12.50 ए एम से (देर रात) चतुर्थी तिथि का समापन- 07 जून, 2023 को 09.50 पी एम पर। बता दें कि इस बार संकष्टी चतुर्थी का समापन 09.50 पी एम पर हो रहा है तथा तत्पश्चात पंचमी तिथि लग जाएगी। अत: चतुर्थी तिथि के दौरान कोई चंद्रोदय नहीं है। वैसे संकष्टी के दिन चंद्रोदय का समय- 10.50 पी एम पड़ रहा है। 7जून 2023, बुधवार : दिन का चौघड़िया लाभ- 05.23 ए एम से 07.07 ए एम अमृत- 07.07 ए एम से 08.51 ए एम शुभ- 10.36 ए एम से 12.20 पी एम चर- 03.49 पी एम से 05.33 पी एम लाभ- 05.33 पी एम से 07.17 पी एम रात्रि का चौघड़िया शुभ- 08.33 पी एम से 09.49 पी एम अमृत- 09.49 पी एम से 11.04 पी एम चर- 11.04 पी एम से 08 जून को 12.20 ए एम तक, लाभ- 02.51 ए एम से 08 जून को 04.07 ए एम तक। आषाढ़ चतुर्थी व्रत कथा-Ashadh Chaturthi Vrat Katha आषाढ़ मास की चतुर्थी व्रत की कथा के अनुसार द्वापर युग में महिष्मति नगरी का महीजित नामक राजा था। वह बड़ा ही पुण्यशील और प्रतापी राजा था। वह अपनी प्रजा का पालन पुत्रवत करता था। किन्तु संतानविहीन होने के कारण उसे राजमहल का वैभव अच्छा नहीं लगता था। वेदों में निसंतान का जीवन व्यर्थ माना गया हैं। यदि संतानविहीन व्यक्ति अपने पितरों को जल दान देता हैं तो उसके पितृगण उस जल को गरम जल के रूप में ग्रहण करते हैं। इसी उहापोह में राजा का बहुत समय व्यतीत हो गया। उन्होंने पुत्र प्राप्ति के लिए बहुत से दान, यज्ञ आदि कार्य किए। फिर भी राज को पुत्रोत्पत्ति न हुई। जवानी ढल गई और बुढ़ापा आ गया किंतु वंश वृद्धि न हुई। तदनंतर राजा ने विद्वान ब्राह्मणों और प्रजाजनों से इस संदर्भ में परामर्श किया। राजा ने कहा कि हे ब्राह्मणों तथा प्रजाजनों! हम तो संतानहीन हो गए, अब मेरी क्या गति होगी? मैंने जीवन में तो किंचित भी पाप कर्म नहीं किया। मैंने कभी अत्याचार द्वारा धन संग्रह नहीं किया। मैंने तो सदैव प्रजा का पुत्रवत पालन किया तथा धर्माचरण द्वारा ही पृथ्वी शासन किया। मैंने चोर-डाकुओं को दंडित किया। इष्ट मित्रों के भोजन की व्यवस्था की, गौ, ब्राह्मणों का हित चिंतन करते हुए शिष्ट पुरुषों का आदर सत्कार किया। फिर भी मुझे अब तक पुत्र न होने का क्या कारण हैं? विद्वान् ब्राह्मणों ने कहा कि, हे महाराज! हम लोग वैसा ही प्रयत्न करेंगे जिससे आपके वंश कि वृद्धि हो। इस प्रकार कहकर सब लोग युक्ति सोचने लगे। सारी प्रजा राजा के मनोरथ की सिद्धि के लिए ब्राह्मणों के साथ वन में चली गई। वन में उन लोगों को एक श्रेष्ठ मुनि के दर्शन हुए। वे मुनिराज निराहार रहकर तपस्या में लीन थे। ब्रह्माजी के सामान वे आत्मजित, क्रोधजित तथा सनातन पुरुष थे। संपूर्ण वेद-विशारद एवं अनेक ब्रह्म ज्ञान संपन्न वे महात्मा थे। उनका निर्मल नाम लोमश ऋषि था। प्रत्येक कल्पांत में उनके एक-एक रोम पतित होते थे। इसलिए उनका नाम लोमश ऋषि पड़ गया। ऐसे त्रिकालदर्शी महर्षि लोमेश के उन लोगों ने दर्शन किए। सब लोग उन तेजस्वी मुनि के पास गए। उचित अभ्यर्थना एवं प्रणामदि के अनंतर सभी लोग उनके समक्ष खड़े हो गए। मुनि के दर्शन से सभी लोग प्रसन्न होकर परस्पर कहने लगे कि हम लोगों को सौभाग्य से ही ऐसे मुनि के दर्शन हुए। इनके उपदेश से हम सभी का मंगल होगा, ऐसा निश्चय कर उन लोगों ने मुनिराज से कहा। हे ब्रह्मऋषि! हम लोगों के दुःख का कारण सुनिए। अपने संदेह के निवारण के लिए हम लोग आपके पास आए हैं। हे भगवन! आप कोई उपाय बतलाइए। महर्षि लोमेश ने पूछा-सज्जनों! आप लोग यहां किस अभिप्राय से आए हैं? मुझसे आपका क्या प्रयोजन हैं? स्पष्ट रूप से कहिए। मैं आपके सभी संदेहों का निवारण करूंगा। प्रजाजनों ने उत्तर दिया- हे मुनिवर! हम महिष्मति नगरी के निवासी हैं। हमारे राजा का नाम महीजित है। वह राजा ब्राह्मणों का रक्षक, धर्मात्मा, दानवीर, शूरवीर एवं मधुरभाषी है। उस राजा ने हम लोगों का पालन पोषण किया है, परंतु ऐसे राज को आज तक संतान की प्राप्ति नहीं हुई। हे भगवान्! माता-पिता तो केवल जन्मदाता ही होते हैं, किंतु राज ही वास्तव में पोषक एवं संवर्धक होता हैं। उसी राजा के निमित हम लोग ऐसे गहन वन में आए है। हे महर्षि! आप कोई ऐसी युक्ति बताइए जिससे राजा को संतान की प्राप्ति हो, क्योंकि ऐसे गुणवान राजा को कोई पुत्र न हो, यह बड़े दुर्भाग्य की बात हैं। हम लोग परस्पर विचार-विमर्श करके इस गंभीर वन में आए हैं। उनके सौभाग्य से ही हम लोगों ने आपका दर्शन किया हैं। हे मुनिवर! किस व्रत, दान, पूजन आदि अनुष्ठान कराने से राजा को पुत्र होगा। आप कृपा करके हम सभी को बतलाएं। प्रजा की बात सुनकर महर्षि लोमेश ने कहा- हे भक्तजनो! आप लोग ध्यानपूर्वक सुनो। मैं संकटनाशन व्रत को बता रहा हूं। यह व्रत निसंतान को संतान और निर्धनों को धन देता हैं। आषाढ़ कृष्ण चतुर्थी को ‘एकदंत गजानन’ नामक गणेश की पूजा करें। राजा व्रत करके श्रद्धायुक्त हो ब्राह्मण भोज करवाकर उन्हें वस्त्र दान करें। गणेश जी की कृपा से उन्हें अवश्य ही पुत्र की प्राप्ति होगी। महर्षि लोमश की यह बात सुनकर सभी लोग करबद्ध होकर उठ खड़े हुए। नतमस्तक होकर दंडवत प्रणाम करके सभी लोग नगर में लौट आए। वन में घटित सभी घटनाओं को प्रजाजनों ने राजा से बताया। प्रजाजनों की बात सुनकर राज बहुत ही प्रसन्न हुए और उन्होंने श्रद्धापूर्वक विधिवत गणेश चतुर्थी का व्रत करके ब्राह्मणों को भोजन वस्त्रादि का दान दिया। रानी सुदक्षिणा को श्री गणेश जी कृपा से सुंदर और सुलक्षण पुत्र प्राप्त हुआ। श्रीकृष्ण जी कहते हैं इस व्रत का ऐसा ही प्रभाव हैं। अत: जो व्यक्ति इस व्रत को श्रद्धापूर्वक करेंगे वे समस्त सांसारिक सुख के अधिकारी होंगे तथा उनका घर हमेशा खुशियों से भरापूरा रहेगा।

How To Play Rummy 500 With 6 Players

अहमदाबाद में भारत के खिलाफ चौथे टेस्ट में ग्रीन के साथ पांचवें विकेट के लिए 208 रन की साझेदारी करने वाले ऑस्ट्रेलिया के सलामी बल्लेबाज उस्मान ख्वाजा ने कहा कि इस पारी ने इस ऑलराउंडर को पूरी तरह से बदल दिया। How To Play Rummy 500 With 6 Players, तुला- तुला राशि वाले जातकों के लिए यह माह मिश्रित फल वाला रहेगा। व्यापार अच्छा चलेगा। कृषि क्षेत्र में मध्यम सफलता मिलेगी। नौकरी में प्रशंसा प्राप्त होगी। माता के स्वास्थ्य में सुधार होगा। आपके ऊपर परिवार की जिम्मेदारी बढ़ेगी, साथ ही आर्थिक विकास में रुकावट आएगी। माता-पिता से आर्थिक सहयोग प्राप्त होगा। दिनांक 12, 30 शुभ हैं, 19 अशुभ है। गणेशजी की आराधना लाभप्रद रहेगी।

Live out your lucky dreams – play at our online casino! Rummy Shivaji Maharaj Corona India Update: भारत में 1 दिन में कोरोनावायरस (coronavirus) संक्रमण के 124 नए मामले सामने आने के बाद देश में अभी तक संक्रमित हुए लोगों की संख्या बढ़कर 4,49,91,880 हो गई है, वहीं उपचाराधीन मरीजों की संख्या 3,193 से घटकर 3,001 रह गई है। इस दौरान 2 मरीजों की मौत हो गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से मंगलवार को सुबह 8 बजे जारी अद्यतन आंकड़ों के मुताबिक संक्रमण से 2 और मरीजों की मौत के बाद देश में कोरोनावायरस संक्रमण से जान गंवाने वाले लोगों की कुल संख्या 5,31,884 हो गई है। इनमें 1 वह मरीज शामिल है जिसका नाम संक्रमण से मौत के आंकड़ों का पुन:मिलान करते हुए केरल ने वैश्विक महामारी से दम तोड़ने वाले मरीजों की सूची में जोड़ा। अद्यतन आंकड़ों के अनुसार भारत में अभी 3,001 लोगों का कोरोनावायरस संक्रमण का इलाज चल रहा है, जो संक्रमण के कुल मामलों का 0.01 प्रतिशत है, वहीं देश में मरीजों के ठीक होने की राष्ट्रीय दर 98.81 प्रतिशत है। देश में अभी तक कुल 4,44,56,995 लोग संक्रमणमुक्त हो चुके हैं जबकि कोविड-19 से मृत्यु दर 1.18 प्रतिशत है। स्वास्थ्य मंत्रालय की वेबसाइट के अनुसार भारत में राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान के तहत अभी तक कोविड-19 रोधी टीकों की 2,20,67,13,866 खुराकें लगाई जा चुकी हैं। गौरतलब है कि भारत में 7 अगस्त 2020 को कोरोनावायरस संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त 2020 को 30 लाख और 5 सितंबर 2020 को 40 लाख से अधिक हो गई थी। संक्रमण के कुल मामले 16 सितंबर 2020 को 50 लाख, 28 सितंबर 2020 को 60 लाख, 11 अक्टूबर 2020 को 70 लाख, 29 अक्टूबर 2020 को 80 लाख और 20 नवंबर को 90 लाख के पार चले गए थे। देश में 19 दिसंबर 2020 को ये मामले 1 करोड़ से अधिक हो गए थे। 4 मई 2021 को संक्रमितों की संख्या 2 करोड़ और 23 जून 2021 को 3 करोड़ के पार पहुंच गई थी। पिछले साल 25 जनवरी को संक्रमण के कुल मामले 4 करोड़ के पार चले गए थे।(भाषा) Edited by: Ravindra Gupta

Rummy Circle Pc Download

नई दिल्ली। Excise Policy Scam : दिल्ली हाईकोर्ट (Delhi High Court) ने कथित आबकारी नीति घोटाले से जुड़े मनी लॉड्रिंग के एक मामले में आम आदमी पार्टी (AAP) के नेता मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) को अंतरिम जमानत देने से सोमवार को इनकार कर दिया। न्यायमूर्ति दिनेश कुमार शर्मा ने हालांकि मनीष सिसोदिया को हिरासत में रहने के दौरान एक दिन सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे के बीच अपनी बीमार पत्नी से मिलने की अनुमति दे दी। दिल्ली के पूर्व उपमुख्यमंत्री ने अंतरिम जमानत का अनुरोध करते हुए कहा था कि उनकी बीमार पत्नी की देखभाल करने वाला उनके अलावा कोई और नहीं है। मामले में नियमित जमानत के लिए सिसोदिया की याचिका हाईकोर्ट के समक्ष लंबित है। इस मामले में 9 मार्च को गिरफ्तार किए गए सिसोदिया अभी प्रवर्तन निदेशालय (ED) की न्यायिक हिरासत में है। ईडी ने सबूतों के साथ छेड़छाड़ की आशंका जाहिर करते हुए अंतरिम जमानत याचिका का विरोध किया है।ईडी के वकील ने दावा किया कि सिसोदिया की पत्नी चिकित्कसीय स्थिति पिछले 20 साल से ऐसी ही है। दिल्ली सरकार ने 17 नवंबर 2021 को नीति लागू की थी, लेकिन भ्रष्टाचार के आरोपों के बीच सितंबर 2022 के अंत में इसे वापस ले लिया था। दिल्ली हाईकोर्ट ने आबकारी नीति से जुड़े उस मामले में 30 मई को सिसोदिया को जमानत देने से इनकार कर दिया था, जिसकी जांच केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (CBI) कर रहा है। अदालत ने कहा था कि उनके खिलाफ लगे आरोप बहुत गंभीर प्रकृति के हैं। एजेंसियां Rummy Circle Pc Download, थ्रोडाउन पर अभ्यास के दौरान गेंद लगने के बाद रोहित को अपना बायां अंगूठा पकड़े हुए देखा गया लेकिन वह असहज नहीं दिख रहे थे। एहतियात के तौर पर उन्होंने इसके बाद अभ्यास नहीं किया।बीसीसीआई सूत्रों ने कहा कि बुधवार से यहां शुरू हो रहे खिताबी मुकाबले से पहले उनके साथ कोई समस्या नहीं है।ओवल में पहला टेस्ट मैच 1880 में खेला गया था लेकिन यह पहला अवसर है जबकि वह जून के महीने में टेस्ट मैच की मेजबानी करेगा।पिछले दो दिनों से यहां बादल छाये है लेकिन मैच के शुरुआती तीन तक मौसम अच्छा रहने का पूर्वानुमान है। मैच के चौथे दिन बारिश की आशंका है। इस मुकाबले के लिए एक रिजर्व दिन भी रखा गया है।

Vastu tips fro shoe and slipper: पहले के जमाने में लोग अपने जूते चप्पल घर के बाहर उतारक ही घर में जाते थे। घर में सभी बगैर चप्पल के रहते थे। परंतु आजकल कई लोग घर में चप्पल पहनकर रहते हैं। कुछ लोग तो घर में ही ही बाहर के जूते पहनकर आ जाते हैं। ऐसे में यह जानना जरूरी है कि वास्तु के अनुसार घर में चप्पल पहनना चाहिए या नहीं। घर में चप्पल पहनना चाहिए या नहीं? Rummy Guru Com सूत्र ने कहा, ‘‘इस बात की पूरी संभावना है कि इस साल एशिया कप का आयोजन नहीं हो पाएगा क्योंकि पाकिस्तान और भारत के मैचों के बिना प्रसारणकर्ता के उतनी राशि की पेशकश करने की संभावना नहीं है जितनी वे पाकिस्तान की मौजूदगी में एसीसी को दे रहे थे।’’